खाटू श्याम मंदिर कैसे पहुँचे? - Khatu Shyam Kaise Jayen?

खाटू श्याम मंदिर कैसे पहुँचे? - Khatu Shyam Kaise Jayen?, इसमें देश के कई शहरों से खाटू श्याम जी मंदिर तक जाने के रास्तों और साधनों के बारे में बताया है।


{tocify} $title={Table of Contents}

खाटूश्यामजी शहर जयपुर से लगभग 80 किमी और दिल्ली से लगभग 275 किमी की दूरी पर स्थित है। रींगस जंक्शन निकटतम रेलवे स्टेशन है, जो खाटू से लगभग 17 किलोमीटर दूर है।

यदि आप सीकर जिले के खाटूश्यामजी जाना चाहते हैं, तो आपको पहले रींगस शहर पहुंचना होगा और फिर खाटूश्यामजी जाना होगा। बहुत से लोग रींगस से पैदल यात्रा करते हुए पैदल ही खाटू जाते हैं।

खाटूश्यामजी जाने के लिए अलग-अलग मार्ग, Khatu Shyam Ji Jane Ke Liye Alag Alag Raste


आप  खाटूश्यामजी बस, ट्रेन और हवाई जहाज से जा सकते हैं। सभी मार्ग इस प्रकार हैं:

बस से खाटू श्याम जी कैसे जाएँ?, Bus Se Khatu Shyam Ji Kaise Jayen?


अगर आप जयपुर या दिल्ली से बस से आ रहे हैं तो आपको रींगस पहुंचना होगा और खाटूश्यामजी के लिए दूसरी बस लेनी होगी। खाटूश्यामजी के लिए यहां कई निजी टैक्सियां उपलब्ध हैं।

खाटू धाम से जयपुर, सीकर आदि प्रमुख स्थानों के लिए रोडवेज बसों के साथ-साथ निजी बसें, टैक्सी और जीप भी आसानी से उपलब्ध हैं।

ट्रेन से खाटू श्याम जी कैसे जाएँ?, Train Se Khatu Shyam Ji Kaise Jayen?


अगर आप ट्रेन से आ रहे हैं तो सबसे नजदीकी रेलवे स्टेशन भी रींगस या रींगस जंक्शन है, जो यहां से 17 किलोमीटर दूर है। यहां से आपको बस या टैक्सी से जाना होगा।

हवाई जहाज से खाटू श्याम जी कैसे जाएँ?, Plane Se Khatu Shyam Ji Kaise Jayen?


अगर आप हवाई मार्ग से आ रहे हैं, तो आपको निकटतम हवाई अड्डे यानी जयपुर अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे तक पहुंचना होगा, जो यहां से लगभग 100 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। यहां से आपको बस या टैक्सी से जाना होगा।

प्रमुख शहरों से खाटू श्याम जी कैसे जाएँ?, Pramukh Shaharon Se Khatu Shyam Ji Kaise Jaye?


यहाँ पर हम आपको बताएँगे कि कुछ महत्वपूर्ण शहरों और धार्मिक स्थलों से खाटू श्यामजी की दूरी कितनी है और यहाँ से खाटू श्यामजी कैसे जाना है।

रींगस से खाटू श्याम जी कैसे जाएँ?, Reengus Se Khatu Shyam Ji Kaise Jayen?


अगर आपको खाटू श्याम जी जाना है तो आपको रींगस तो जाना ही पड़ेगा क्योंकि खाटू श्याम जी जाने का रास्ता रींगस होते हुए ही है।

रींगस कस्बा रेल मार्ग और सड़क मार्ग दोनों से जुड़ा हुआ है। यह कस्बा जयपुर से सीकर जाने वाले नेशनल हाईवे नंबर 52 पर जयपुर से लगभग 65 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है।

खाटू श्यामजी कस्बे के सबसे पास रींगस रेल्वे स्टेशन है। रींगस रेल्वे स्टेशन, चारों दिशाओं के सभी बड़े कस्बों जैसे जयपुर, अजमेर, दिल्ली और सीकर से जुड़ा हुआ है।

रींगस से दांतारामगढ़ रूट पर खाटूश्यामजी कस्बा स्थित है। रींगस से खाटू श्याम जी की दूरी लगभग 18 किलोमीटर है और यह स्टेट हाईवे से जुड़ा हुआ है। इस रास्ते पर एक टोल बूथ भी पड़ता है।

रींगस से खाटू श्याम मंदिर जाने के लिए आपको सबसे पहले रींगस जंक्शन या रोडवेज बस स्टैंड से खाटू मोड़ पर आना होगा। दूरी ज्यादा ना होने की वजह से यहाँ तक आप ऑटो से या फिर पैदल भी आ सकते हैं।

खाटू मोड़ से खाटू श्याम जी के मंदिर तक जाने के लिए काफी बड़ी संख्या में बस और टैक्सी उपलब्ध हैं।

ट्रैफिक जाम के समय रींगस से खाटू श्याम जी कैसे जाएँ?, Traffic Jam Ke Samay Ringas Se Khatu Shyam Ji Kaise Jayen?


आजकल शनिवार, रविवार और सरकारी छुटियों के दिन खाटू श्याम जी जाने वाले श्रद्धालुओं की भारी भीड़ रहती है।

हर महीने की एकादशी और द्वादशी को खाटू श्याम जी का मेला भरता है जिस वजह से इन दो दिनों के लिए खाटू में हर तरफ लोग ही लोग दिखाई देते हैं।

ऐसे कई बार रींगस से खाटू जाने वाला रोड ट्रैफिक जाम के चलते कई-कई घंटो के लिए बंद हो जाता है। लोग कई घंटे तक जाम में फँस जाते हैं।


ऐसे समय आपको रींगस से खाटू जाने वाले इस रास्ते के बजाये दूसरे रास्ते से जाना चाहिए ताकि ट्रैफिक जाम की समस्या से बचा जा सके।

ट्रैफिक जाम के समय आपको रींगस-सीकर रूट पर रींगस से लगभग 20 किलोमीटर की दूरी पर ठीकरिया से आगे मंढा मोड़ तक जाना होगा।

मंढा मोड़ से आगे मंढा गाँव होते हुए खाटू श्याम जी जाया जा सकता है। रींगस से मंढा मोड़ होते हुए खाटू श्याम जी जाने की दूरी लगभग 27 किलोमीटर है।

जीण माता से खाटू श्याम जी कैसे जाएँ?, Jeen Mata Se Khatu Shyam Ji Kaise Jayen?


जीण माता से खाटू श्याम जी जाने का सबसे छोटा रास्ता आलोदा, कोछोर होते हुए है। इस रास्ते से जीण माता के मंदिर से खाटू श्याम जी की दूरी लगभग 28 किलोमीटर है।

जीण माता से खाटू श्याम जी जाने का दूसरा रास्ता रैवासा होते हुए नेशनल हाईवे 52 पर गोरिया, रानोली, पलसाना, मंढा मोड़ तक जाकर फिर मंढा कस्बे से खाटू श्याम जी तक है।

इस रास्ते से जीण माता से खाटू श्याम जी की कुल दूरी लगभग 47 किलोमीटर है। यह रास्ता लम्बा जरूर है लेकिन सड़क की हालत काफी हद तक बढ़िया है।

जयपुर से खाटू श्याम जी कैसे जाएँ?, Jaipur Se Khatu Shyam Ji Kaise Jayen?


जयपुर जंक्शन से खाटू श्याम जी की दूरी लगभग 80 किलोमीटर है। जयपुर से रींगस तक नेशनल हाईवे नंबर 52 से जाया जा सकता है। इसके बाद रींगस से खाटू श्याम जी तक स्टेट हाईवे से जाया जा सकता है।

अगर आप ट्रैन से जाना चाहते हैं तो आपको जयपुर से रींगस के लिए जाने वाली कई ट्रेन मिल जाएगी। रींगस से खाटू आपको सड़क मार्ग से ही जाना पड़ेगा।

दिल्ली से खाटू श्याम जी कैसे जाएँ?, Delhi Se Khatu Shyam Ji Kaise Jayen?


दिल्ली सराय रोहिल्ला से जयपुर जंक्शन की दूरी लगभग 265 किलोमीटर है। जयपुर से खाटू श्याम जी की दूरी लगभग 80 किलोमीटर है। इस प्रकार दिल्ली से खाटू श्याम जी वाया जयपुर लगभग 350 किलोमीटर दूर है।

अगर आप दिल्ली से बस के द्वारा खाटू आना चाहते हैं तो आपको नेशनल हाईवे नंबर 48 के जरिये आना होगा। इस रास्ते से जयपुर जाने तक भिवाड़ी, बहरोड़, कोटपूतली, शाहपुरा होकर जयपुर आना होगा।

इस रूट से खाटू श्याम जी जाने के लिए आपको दिल्ली से जयपुर जंक्शन या फिर सिंधी कैंप सेंट्रल बस स्टैंड आना होगा। इसके बाद यहाँ से बस या ट्रेन के द्वारा रींगस होते हुए खाटू जाना होगा।

दिल्ली से खाटू श्याम जी जाने का छोटा रास्ता, Delhi Se Khatu Shyam Ji Jane Ka Chhota Rasta


दिल्ली सराय रोहिल्ला से खाटू श्याम जी की दूरी इस छोटे रास्ते से लगभग 270 किलोमीटर है। इस रास्ते से आपके कम से कम 70 किलोमीटर बचते हैं।

अगर आप बस के द्वारा दिल्ली से खाटू आना चाहते हैं तो आपको नेशनल हाईवे नंबर 48 के जरिये सबसे पहले शाहपुरा आना होगा।

शाहपुरा से जयपुर ना जाकर ना जाकर अजीतगढ़, श्रीमाधोपुर होते हुए रींगस जाना होगा। रींगस से फिर खाटू जाने का एक ही रास्ता है।

अगर आप ट्रैन के द्वारा दिल्ली से खाटू आना चाहते हैं तो आपको दिल्ली से रेवाड़ी, नारनौल, नीम का थाना, श्रीमाधोपुर, रींगस होकर फुलेरा जाने वाली ट्रैन से रींगस जंक्शन पर उतर जाना है। रींगस से फिर खाटू जाने का एक ही रास्ता है।

सालासर बालाजी से खाटू श्याम जी कैसे जाएँ?, Salasar Balaji Se Khatu Shyam Ji Kaise Jayen?


सालासर बालाजी से खाटू श्याम जी की दूरी लगभग 100 किलोमीटर है। सालासर से खाटू जाने के लिए गनेरी, नेछवा, काछवा, फागलवा से आगे सीकर बाईपास होते हुए नेशनल हाईवे 52 पर गोरिया, रानोली, पलसाना, मंढा मोड़ तक जाकर फिर मंढा कस्बे से होकर खाटू श्याम जी जाना होता है।

मौटे तौर पर देखें तो पहले सालासर से सीकर, फिर सीकर से रींगस होते हुए खाटू जा सकते हैं। चूँकि आप सीकर की तरफ से ही आ रहे हैं इसलिए अगर मंढा मोड़ होते हुए जायेंगे तो आपके लिए रास्ता थोड़ा छोटा होगा।

मेहंदीपुर बालाजी से खाटू श्याम जी कैसे जाएँ?, Mehandipur Balaji Se Khatu Shyam Ji Kaise Jayen?


मेहंदीपुर बालाजी से खाटू श्याम जी की दूरी लगभग 200 किलोमीटर है। मेहंदीपुर बालाजी, जयपुर से आगरा नेशनल हाईवे पर सिकंदरा से आगे स्थित है।

मेहंदीपुर बालाजी से खाटू श्याम जी जाने के लिए सबसे पहले आपको दौसा होते हुए जयपुर आना होगा। इसके बाद जयपुर से रींगस और फिर यहाँ से खाटू जाना होगा।

आज के लिए बस इतना ही, उम्मीद है हमारे द्वारा दी गई जानकारी आपको जरूर पसंद आई होगी। कमेन्ट करके अपनी राय जरूर बताएँ।

इस तरह की नई-नई जानकारियों के लिए हमारे साथ बने रहें। जल्दी ही फिर से मिलते हैं एक नई जानकारी के साथ, तब तक के लिए धन्यवाद, नमस्कार।

Khatu Shyam Kaise Jayen

लेखक (Writer)

रमेश शर्मा {एम फार्म, एमएससी (कंप्यूटर साइंस), पीजीडीसीए, एमए (इतिहास), सीएचएमएस}

सोशल मीडिया पर हमसे जुड़ें (Connect With Us on Social Media)

हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें
हमें फेसबुकएक्स और इंस्टाग्राम पर फॉलो करें
हमारा व्हाट्सएप चैनल और टेलीग्राम चैनल फॉलो करें

डिस्क्लेमर (Disclaimer)

इस लेख में शैक्षिक उद्देश्य के लिए दी गई जानकारी विभिन्न ऑनलाइन एवं ऑफलाइन स्रोतों से ली गई है जिनकी सटीकता एवं विश्वसनीयता की गारंटी नहीं है। आलेख की जानकारी को पाठक महज सूचना के तहत ही लें। इसके अतिरिक्त इसके किसी भी उपयोग की जिम्मेदारी स्वयं उपयोगकर्ता की ही रहेगी।
Ramesh Sharma

I am a Pharmacy Professional having M Pharm (Pharmaceutics). I also have MSc (Computer Science), MA (History), PGDCA and CHMS. Being a healthcare professional, I want to educate people so I write blog articles related to healthcare system.

एक टिप्पणी भेजें

श्याम बाबा की कृपा पाने के लिए कमेन्ट बॉक्स में - जय श्री श्याम - लिखकर जयकारा जरूर लगाएँ और साथ में बाबा श्याम का चमत्कारी मंत्र - ॐ श्री श्याम देवाय नमः - जरूर बोले।

और नया पुराने